Contact: +91-9711224068
International Journal of Home Science
  • Printed Journal
  • Indexed Journal
  • Refereed Journal
  • Peer Reviewed Journal

Impact Factor: RJIF 5.3, NAAS Rating: 3.32

International Journal of Home Science

2020, VOL. 6 ISSUE 3, PART C

माताओं का अपनी किशोर बालिकाओं के साथ माधुर्य सम्बन्ध

Author(s): डॉ निशा कुमारी
Abstract:
बचपन और वयस्कता के बीच के महत्वपूर्ण समय को ही किशोरावस्था कहा जाता है| यह अवस्था मानव-जीवन की सबसे सुन्दर एवं स्वर्णिम अवस्था है| किशोरावस्था की ओर बढ़ते समय किशोर और किशोरियों में हार्मोन्स के स्त्राव की वजह से शारीरिक, मनोवैज्ञानिक और सामाजिक बदलाव होते हैं| विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार ये बदलाव लगभग 10 से 19 वर्ष के बीच तक जारी रहता है| माताओं को अपनी किशोर बालिकाओं के साथ अत्यंत ही मधुरता के साथ इस बदलाव के समय में उसका ख्याल रखना होता है|
Pages: 127-128  |  38 Views  5 Downloads
How to cite this article:
डॉ निशा कुमारी. माताओं का अपनी किशोर बालिकाओं के साथ माधुर्य सम्बन्ध. Int J Home Sci 2020;6(3):127-128.
International Journal of Home Science